Weekly Newsletter of CSC e-Governance Services India Limited, January 5, 2016  |   CSC network is one of the largest Government approved online service delivery channels in the world
 
LEAD
To read in English click here.


  सीएससी 2.0 के तहत सभी सीएससी की कॉमन ब्रांडिंग

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग ने सीएससी 2.0 योजना के तहत सभी सीएससी के लिए कॉमन ब्रांडिंग की मंजूरी दे दी है ।


एक 6 X 3 फुट (चौड़ाई x ऊँचाई) की अप्रूव्ड डिजाइन के अनुसार देश भर में सभी सीएससी पर कॉमन ब्रांडिंग के साथ सामने दुकान का बोर्ड प्रदर्शित किया जा रहा है। डिजाइन को सीएससी केन्द्र के नाम और राज्य के सीएससी लोगो के लिए है शामिल किया गया है, उदाहरण के लिए , झारखंड में प्रज्ञा केन्द्र और केरल में अक्षय केन्द्र। बोर्ड के नीचे सीएससी का पूरा पता, ग्राम पंचायत, जिला और राज्य सहित दिया गया है।

इसका ऑपन फ़ाइल जल्द ही www.csc.gov.in पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। वीएलई सीएससी वेबसाइट से ऑपन फाइल को डाउनलोड कर सकते हैं और अपने सीएससी केन्द्र के राज्य, सीएससी लोगो, सीएससी नाम और पूरा पता शामिल कर सकते हैं। कॉमन ब्रांडिंग के साथ सभी सीएससी को आगे विभिन्न सेवाओं के लिए शुल्क-दरें देनी होंगी।

अपने ब्रांडेड सीएससी की एक तस्वीर के साथ उसका नाम , ओएमटी आईडी कॉन्टेक्ट नंबर और पूरा पता जैसे अन्य विवरण के साथ ब्रांडिंग पर खर्च के लिए वीएलई को प्रति सीएससी पर 3500 रुपये की आर्थिक सहायता प्राप्त होगी।

डिजिटल भारत कार्यक्रम के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में नागरिकों को विभिन्न ई- सेवाएं प्रदान करने के लिए सभी 2.5 लाख ग्राम पंचायतों में सीएससी स्थापित करने के लिए सीएससी 2.0 सरकार की प्रतिबद्धता के अनुसरण में तैयार की गई है। इस योजना के तहत देश भर में सभी सीएससी एक जैसे लगें और महसूस हों इसलिए संबंधित सीएससी केन्द्र को राज्य सीएससी के लोगो और नाम के इस्तेमाल से स्थानीय छवि दी गई है।



 


  अपना सीएससी पोर्टल पर दो नई आईटीआर सेवाएं

अपना सीएससी के माध्यम से असिस्टेड आयकर सेवा के सफल लॉंच के बाद इस अनुपालन सेवा पर ​​ध्यान दें और 1 जनवरी से अपना टीडीएस लाइव बनाएं।।  सीएससी एसपीवी ने इन सेवाओं को हैदराबाद की एक सीए फर्म  टैक्स जीनियस के साथ शुरू कर दिया गया है।वीएलई से प्रतिक्रिया ले कर सीएससी एसपीवी अब इस क्षेत्र में दो और सेवाओं की शुरूआत की है :

आयकर नोटिस दाखिल के अनुपालन- सीएससी पारिस्थितिकी तंत्र ऑनलाइन आईटी नोटिस और समर्थन दायर करने में लोगों की मदद करेंगे

अपने टीडीएस पता - आईटी विभाग ई-रिटर्न प्रणाली में पंजीकृत हो रहे लोगों की मदद करेंगे और वे ऑनलाइन टैक्स क्रेडिट स्टेटमेंट ( फॉर्म 26 एएस ) स्वचालित रूप से  हर तिमाही प्राप्त कर सकेंगे

वीएलई को सक्रिय करने की सीएससी एसपीवी की इनकम टैक्स रिटर्न फाइल पहल नागरिकों के लिए काफी सफल रही है। पिछले 3 महीनों में न केवल 10000 वीएलई ने आयकर रिटर्न दायर किया बल्कि उन्हें उनका रिफंड प्राप्त करने में भी सहायता मिली है। वीएलई के लिए ऑनलाइन वीडियो प्रशिक्षण, सरलीकृत ऑनलाइन सेवा वितरण प्रणाली और 24x7  हेल्प डेस्क समर्थन द्वारा इन सभी सेवाओं का समर्थन कर रहे हैं ।






Share This!